इन 50 बिल्डिंग का ऐसा डिज़ाइन देखकर आप कहेंगे इसे बनाने वाले इंजीनियर थे या आर्टिस्ट

इन 50 बिल्डिंग्स का ऐसा डिज़ाइन देख कर आप कहेंगे इसे बनाने वाले इंजीनियर्स थे या आर्टिस्ट

 Poston 11 Jun. 2017 1:20

ख़ूबसूरत घर बनाना हर किसी का सपना होता है. आपने एक से एक आलीशान घर-बंगले देखे होंगे. लेकिन शायद ही आपने ऐसा कोई बंगला देखा हो, जिसके आकार ने आपको चौंका दिया हो. आज हम आपको दिखाएंगे दुनिया भर की ऐसी बिल्डिंग्स, जिनका आर्किटेक्टचर काफ़ी हैरान करने वाला है. ये हैं अजीबोग़रीब आकार की बिल्डिंग्स, जिन्हें देखकर आप भी कहेंगे कि ये कैसा डिज़ाइन है?

1. पिचकी हुई है ये बिल्डिंग.

2. एक जैसी खिड़की ढ़ूंढ के दिखाइए.

4. टोकरी जिसमें सामान नहीं, इंसान रहते हैं.

5. बाहर से आ रही है लाइब्रेरी वाली फ़ीलिंग.

6. ज़रा नक्काशी तो देखिए, पत्थर को तराश के बनाया है ये

 घर.

7. धरती में समाने की एक नाकामयाब कोशिश.

8. कौन रख कर चला गया इन्हें ऐसे?

9. सामान कैसे रखा होगा अंदर.

10. इसे कहते हैं भूत बंगला.

11. पहाड़ का सीना चीर के बना दिया घर.

12. ये है डांसिंग बिल्डिंग.

13. घर है या वॉशिंग मशीन.

14. ये है मटके वाला घर.

15. बिल्डिंग नहीं पज़ल गेम है ये.

 
17. दिमाग़ वाला घर.

.

20. लगता है धरती पर एलियन आ गए हैं.

21. लो एलियन्स ने तो मकान भी बना लिया.

22. वाह! क्या दरवाज़ा है.

23. ये मिस्र का पिरामिड नहीं, कोरि.

 
29. कंटेनर नहीं घर है.

30. कहां से उड़ कर आया ये घर यहां?

31. ऐसा ही होता है, जब जगह ख़त्म हो जाए पर कम हो

33. बिल्डिंग जो प्रकृति का भी रखे ख्याल.

34. ये गुंबद कहां चुराया होगा, जिसमें इन्होंने बना लिया 

घर.

35.  नूडल्स की तरह दिखता चीन का ये स्टेडियम.

36. ये है बिल्डिंग का छाता.

37. एक और पिरामिड वाला होटल.

38. ये कोई प्लास्टिक का टब नहीं स्टेडियम है.

39. कितनी रंगीन है ये बिल्डिंग.

40. डॉल जैसी बिल़्डिंग.

41. ये कोई ड्रम नहीं, एक बिल्डिंग है.

42. बिल्डिंग के सामने अंडा क्यों रख दिया भाई?

43. ये मिसाइल नहीं है.

44. जल्दी का काम शैतान का.

45. स्टील की मज़बूती है इसमें.

46. गोल चकरी.

47. बिल्डिंग में बॉल क्यों रख दी?

48. पांचवा माला और फैलेगा.

49. टूटा नहीं है, इसका डिज़ाइन ही ऐसा है.

Posted on 11.june.2017

Website monakhaan.com

 Twitter @monaakhaan

#बेटी

#बेटी
एक घर था कुछ लोग थे,

कुछ लोग थे एक बेटी थी,

एक बेटी थी जिसके सपने थे,

कुछ सपने थे जो ऊँचे थे |

कुछ ऊँचे थे जो मान्यताएँ थी,

कुछ मान्यताएँ थे जो रुकावट थी,

कुछ रूकावटे थी जो अपने भी थे,

कुछ अपने थे जो डरते थे,

डरते थे सोच से, समाज की,

समाज था जिसकी कहावते थी ||
कहावते थी की तुम लड़की हो,

लड़कियों के कई दायरे होते है,

दायरे सपनो के, हँसने के, जीने के |

जीने का तुम्हे वो अधिकार कहाँ है,

वो इज़्ज़त और वो प्यार कहाँ है ||
क्या करोगी तुम नौकरी ले कर |

इस ज़माने से अकेले लड़ कर ||

सीखना है तो,सीखो कुछ घर के काम |

भूल जाओ नौकरी और बाकि ताम-झाम ||

तुम्हारा आगे बढ़ना दुनिया को, सहा नही जाता है |

समाज कहता है,बेटी की कमाई खाता है ||

करना है कुछ, तो चूल्हा-चौका करो |

दिन भर चूल्हे की आग में जलो ||

तुम्हारा सपने देखना, वक़्त की बर्बादी है |

मंजिल तुम्हारी सिर्फ और सिर्फ शादी है ||
इस कदर सपनो को कुचल दिया गया,

कुचल दिया गया उन अरमानो को,

अरमान जो उसके जीने का सहारा थे,

सहारा थे आज़ाद उड़ने के सपने के |

कुछ सपने थे जो टूटे थे

टूटा था वो आत्मविश्वास था

आत्मविश्वास जो उसे खुद पर था

खुद को उसने खो दिया, सपनो से मुह मोड़ दिया ||
एक घर था कुछ लोग थे,

कुछ लोग थे एक बेटी थी |

एक बेटी थी जिसके सपने थे,

कुछ सपने थे जो ऊँचे थे ||
लडकी होना गुनाहा नही…..✍

Posted on 4june

Website monakhaan.com

हार्ट अटैक आने पर पास में कोई ना हो तो 10 सेकंड में खुद अपनी जिंदगी कैसे बचाये ?

अचानक से आपके सीने में तेज दर्द होता है जो आपके हाथों से होता हुआ आपके जबड़ो तक पहुँच जाता है । आप अपने घर से सबसे नजदीक अस्पताल से 5 मील दूर हैं और दुर्भाग्यवश आपको ये नहीं समझ मे आ रहा कि आप वहां तक पहुँच पाएंगे कि नहीं । आप सी पी आर (CPR : Cardio Pulmonary Resuscitation) में प्रशिक्षित हैं मगर वहां भी आपको ये नहीं सिखाया गया कि इसको खुद पर प्रयोग कैसे करें ।

ऐसे में दिल के दौरे से बचने के लिए ये उपाय आजमाए

चूँकि ज्यादातर लोग दिल के दौरे के वक्त अकेले होते हैं l बिना किसी की मदद के उन्हें सांस लेने में तकलीफ होती है । वे बेहोश होने लगते हैं और उनके पास very hardly सिर्फ 10 सेकण्ड्स होते है । ऐसे हालत में पीड़ित जोर जोर से खांस कर खुद को सामान्य रख सकता है । एक जोर की खांसी लेनी चाहिए हर खांसी से पहले और खांसी इतनी तेज हो कि छाती से थूक निकले । जब तक मदद न आये ये प्रक्रिया दो सेकंड से दोहराई जाए ताकि धड्कन सामान्य हो जाए । जोर की साँसे फेफड़ो में ऑक्सीजन पैदा करती हैं और जोर की खांसी की वजह से दिल सिकुड़ता है जिससे रक्त संचालन नियमित रूप से चलता है ।

युवाओं में बढ़ रहे हैं हार्ट अटैक के मामले

एम्स के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ संदीप मिश्रा ने बताया कि 55 साल की आयु के नीचे करीब 50 फीसदी भारतीय दिल का दौरा पड़ने से ग्रसित हैं जबकि 25 फीसदी दिल का दौरा पड़ने का मामला 40 साल से नीचे के उम्र में है. इसलिए यह आत्मावलोकन करने और जीवनशैली में आवश्यक बदलाव की मांग करता है.

चिकित्सकों ने चेतावनी दी है कि व्यायाम नहीं करने के चलते मधुमेह, मोटापा और उच्च रक्तचाप जैसे रोग होते हैं जो दिल का दौरा पड़ने की वजह हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि तंबाकू ने इस जोखिम को और बढ़ाया है.

7 ऐसे शुरुआती लक्षण जो कैंसर की चेतावनी देते हैं

कैंसर (कर्क रोग) शब्द सुनते ही शरीर में एक सिहरन सी पैदा होती जाती है। लगभग पूरी दुनिया ही इस गंभीर बीमारी की जद में है। कैंसर एक बीमारियों का वर्ग है, जिसमें शरीर की असामान्य कोशिकाएं तेजी से बढ़ती हैं और रक्त के माध्यम से पूरे शरीर में फैल जाती हैं। हालांकि इस बीमारी का इलाज तो संभव है मगर बहुत देर हो जाने पर यह मृत्यु का कारण बनती है। एन.आई.सी.पी.आर (नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च) के मुताबिक भारत में लगभग 2.5 मिलियन लोग इस बीमारी की चपेट में हैं। हर साल 7 लाख से ज़्यादा नए मरीज़ पंजीकृत होते हैं।

medicalnewstoday
इंसानी शरीर की बनावट ही ऐसी है की वो कोई भी गंभीर बीमारी होने से पहले हमें कुछ संकेत देता है। आज हम आपको ऐसे ही 7 लक्षण बताने जा रहे हैं, जो कैंसर होने की आशंका ज़ाहिर करते हैं और हमें इन्हें कतई नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए।
त्वचा में सूजन (नेओप्लास्म्स)

नेओप्लास्म्स को चमड़ी या स्तन के कैंसर का लक्षण माना जाता है। इसमें स्तन और कांख में गांठें बन जाती हैं। सूजन में फोड़े पैदा हो जाते हैं जिसमें से पस निकलता है। अगर शरीर में कोई पैदाइशी निशान (बर्थमार्क) है तो उसकी बनावट और आकार में वृद्धि होने लगती है।

wisegeek
खांसी

वैसे तो खांसी एक से दो हफ़्तों में खुद ही ठीक हो जाती है, लेकिन अगर खांसी उससे ज़्यादा देर तक रहे तो समझ लीजिए की आपको चिकित्सक से सलाह लेने की ज़रूरत है। खांसी में खून आना और सांस लेने में तकलीफ होना फेफड़ों के कैंसर का कारण होता है।

medscape
आंत्र रोग

कभी कभी आंतों की समस्या सामान्य होती है, लेकिन अगर आपकी आतों में किसी प्रकार का बदलाव हो रहा है तो यह पेट के कैंसर का कारण हो सकता है। बार बार दस्त लगना और उसमें खून आना। लगातार पेट में दर्द और गैस का रहना भी इसके लक्षण हैं।

yahoonews
लघुशंका करते समय स्राव होना

लघुशंका करते समय स्राव होना गुर्दे के कैंसर (किडनी कैंसर) का लक्षण हो सकता है। बार- बार मूत्र में खून आना। उच्च रक्तचाप का होना। गुर्दों में तेज़ दर्द होना। पुरानी कमजोरी।

boldsky
लगातार वज़न कम होना

वैसे तो वज़न कम करने के लिए हम कई तरह के व्यायाम करते हैं, यहाँ तक की अपने पसंद की खाने की चीज़ों से भी परहेज़ करने लगते हैं। लेकिन अगर बिना कुछ करे आपका वज़न तेज़ी से कम हो रहा है तो आपको सचेत हो जाने की ज़रुरत है। रक्तहीनता (एनीमिया) भी इसका लक्षण हो सकता है।

Indiatoday
लगातार गले में ख़राश रहना

अगर आपके गले में लगातार ख़राश रहती है, तो इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। यह गले के कैंसर का लक्षण हो सकता है। खांसते वक़्त गले में दर्द होना और खून आना, निगलने में परेशानी होना, लसीका ग्रंथि में सूजन आना भी इसके लक्षण हैं।

healthtap
अत्यधिक थकान

यदि आप शारीरिक श्रम कम करते हैं और नींद भी भरपूर मात्रा में लेते हैं फिर भी जल्दी थक जाते हैं, तो आपको चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए। अत्यधिक थकान भी कई तरह के कैंसर का लक्षण हो सकती है।

health365
यह अवलोकन खुद से किसी निष्कर्ष पर पहुचने के लिए नहीं है। यदि आपको भी इनमे से कोई लक्षण दिखे या महसूस हो तो चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।

Posted on 28.may.2017

Website monakhaan.com

Twitter. : @mona_khaan

एक चिडि़या जो कैद है खुद के अपनों की फिक्र मे ……..एक चिडि़या जो कैद है खुद की ख्वाहिशों में ………एक चिडि़या जो कैद है खुद की ही बेरुखी में ……….वो उड़ना चाहती है अपने उस सुकुन के साथ जो ……….इस दुनिया की रस्मों से परे हैं जो इस दुनिया की ……………………सोच से परे हैं…..
 आज भी उमीद है उसे के एक दिन उसका सुकुन उसके साथ होगा उसके पास होगा…

Written by mona

Posted on 21.may2017

Twitter:@mona_khaan

Monakhaan.com