हार्ट अटैक आने पर पास में कोई ना हो तो 10 सेकंड में खुद अपनी जिंदगी कैसे बचाये ?

अचानक से आपके सीने में तेज दर्द होता है जो आपके हाथों से होता हुआ आपके जबड़ो तक पहुँच जाता है । आप अपने घर से सबसे नजदीक अस्पताल से 5 मील दूर हैं और दुर्भाग्यवश आपको ये नहीं समझ मे आ रहा कि आप वहां तक पहुँच पाएंगे कि नहीं । आप सी पी आर (CPR : Cardio Pulmonary Resuscitation) में प्रशिक्षित हैं मगर वहां भी आपको ये नहीं सिखाया गया कि इसको खुद पर प्रयोग कैसे करें ।

ऐसे में दिल के दौरे से बचने के लिए ये उपाय आजमाए

चूँकि ज्यादातर लोग दिल के दौरे के वक्त अकेले होते हैं l बिना किसी की मदद के उन्हें सांस लेने में तकलीफ होती है । वे बेहोश होने लगते हैं और उनके पास very hardly सिर्फ 10 सेकण्ड्स होते है । ऐसे हालत में पीड़ित जोर जोर से खांस कर खुद को सामान्य रख सकता है । एक जोर की खांसी लेनी चाहिए हर खांसी से पहले और खांसी इतनी तेज हो कि छाती से थूक निकले । जब तक मदद न आये ये प्रक्रिया दो सेकंड से दोहराई जाए ताकि धड्कन सामान्य हो जाए । जोर की साँसे फेफड़ो में ऑक्सीजन पैदा करती हैं और जोर की खांसी की वजह से दिल सिकुड़ता है जिससे रक्त संचालन नियमित रूप से चलता है ।

युवाओं में बढ़ रहे हैं हार्ट अटैक के मामले

एम्स के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ संदीप मिश्रा ने बताया कि 55 साल की आयु के नीचे करीब 50 फीसदी भारतीय दिल का दौरा पड़ने से ग्रसित हैं जबकि 25 फीसदी दिल का दौरा पड़ने का मामला 40 साल से नीचे के उम्र में है. इसलिए यह आत्मावलोकन करने और जीवनशैली में आवश्यक बदलाव की मांग करता है.

चिकित्सकों ने चेतावनी दी है कि व्यायाम नहीं करने के चलते मधुमेह, मोटापा और उच्च रक्तचाप जैसे रोग होते हैं जो दिल का दौरा पड़ने की वजह हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि तंबाकू ने इस जोखिम को और बढ़ाया है.

Advertisements

Author: MonaKhaan_

I keep my ideals, because in spite of everything I still believe that people are really good at heart.